घर की सुन्दरता ही नहीं, आपका स्वास्थ्य भी संवारते हैं ये प्लांट्स, देखें!

शहरों में रहने वालों को अक्सर स्वच्छ हवा के अभाव का सामना करना पड़ता है. गावों के विपरीत शहरों में बहुत अधिक प्रदूषण होता है तथा जंगलों और पेड़ों के अभाव में प्रदूषित हवा शुद्ध करने की प्रक्रिया मंद पड़ जाती है जिसके फलस्वरूप लोगों को प्रदूषित हवा का सेवन करना पड़ता है. इसके परिणामस्वरुप शहरी लोगों में सांस से संम्बंधित समस्याएँ, एलर्जी, सिरदर्द, थकान अधिक पायी जाती हैं.

शहरों में लोग घरों को अधिकतर बंद ही रखते हैं ताकि धूल-मिट्टी आदि घरों में न घुस सकें. गर्मियों में कूलर-एसी चलते हैं इसलिए भी लोग घरों को बंद रखना पसंद करते हैं जिसके कारण प्रदूषित हवा घर के अन्दर ही घूमती रहती है.

कई बार मच्छर, कॉकरोच मारने वाले स्प्रे, केमिकल वाला एयर फ्रेशनर, फिनायल, केमिकल पेंट्स आदि के प्रयोग से भी घर के अन्दर की हवा अशुद्ध हो जाती है जिससे कई शारीरिक बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है.

इन समस्याओं से बचने के लिए जरूरी है कि घर के बाहर-अन्दर का बातावरण शुद्ध हो. शहरों में हम बाहर के वातावरण को स्वच्छ करने के लिए व्यक्तिगत तौर पर शायद ही कुछ कर सकते हैं. अंतिम समाधान घर के अन्दर के वातावरण को स्वच्छ रखने का है जो हमारे हाथ में हो सकता है.

अंतरिक्ष रिसर्च एजेंसी नासा (NASA) और एक अन्य अमेरिकी रिसर्च कंपनी के अनुसार घर के अन्दर पौधे रखने से न केवल घर हरा-भरा दीखता है बल्कि हवा भी प्रदूषण मुक्त होती है. कमरों, लिविंग और ड्राइंग रूम्स में लगाये जाने वाले कुछ पौधे सकारात्मकता और खुशनुमा माहौल बनाते हैं. हरे-भरे प्लांट्स दिलोदिमाग को शांत करके ताजगी का एहसास करवाते हैं, साथ ही ब्लड-प्रेशर और तनाव अथवा डिप्रेशन, अनिद्रा (नींद न आने की समस्या) जैसी शारीरिक और मानसिक व्याधिओं को कम करने और इनसे लड़ने में हमारी मदद करते हैं.

कुछ ख़ास पौधें हैं जो हम अपने घरों के अन्दर लगा कर अपने जीवन को अधिक खुशनुमा और शांतिपूर्ण बना सकते हैं. एक बार आजमा कर जरूर देखें. अगले पेज में देखें कि वह कौन से सुन्दर और खास प्लांट्स यानी पौधे हैं जो एक तरफ तो हमारे घर की खूबसूरती को तो बढ़ाते ही हैं ऊपर से हमें स्वस्थ और तरो-ताजा रखते हैं.

एरिका पाम (Areca Palm)

एरिका पाम या बटरफ्लाई पाम हवा को शुद्ध करता है. यह हवा से ज़ाइलीन(xylene), टोलून (Toluen), कार्बन-डाइऑक्साइड और टोक्सिंस को सोख लेता है. Dr. B. C. Wolverton के अनुसार एक 1.8 मीटर (5 फुट 11 इंच) का पौधा 24 घंटे में हवा में 1 लीटर पानी छोड़ता है. जाहिर है कि यह हवा में नमी बनाये रखता है जिससे गर्मी में ठंडक और ताजगी बनी रहती है.

स्नेक प्लांट (Snake Plant)

स्नेक प्लांट को Mother-in-Law’s Tongue (सास की जीभ) भी कहा जाता है J. यह रात में कार्बन-डाइऑक्साइड को ऑक्सीजन में बदलता है इसलिए इसे लगाने का सर्वाधिक उपयुक्त स्थान आपका बेडरूम हो सकता है. इसे घर के अन्दर लगने से आँखों की जलन 50% और सिरदर्द 25% ठीक हो जाती है. यह बेहद सस्ता पौधा है इसलिए यदि अभी तक आपने इसे नहीं लगाया तो अब तो इसे लगा लेना चाहिए.

बोस्टन फ़र्न

बोस्टन फ़र्न (Boston Fern) हवा को शुद्ध करने के साथ ही हवा में नमी को बढ़ाता है जिससे सांस लेने में आसानी होती है और त्वचा में नमी बनी रहती है. यह पौधा अधिक पानी मांगता है इसलिए इसे नियमित पानी दें. कई बार पतझड़ में यह बिल्कुल सूख जाता है और ऐसा लगता है कि मानों मर गया हो लेकिन कुछ समय के बाद यह फिर से पनप जाता है.

मनी प्लांट (Money Plant)

मनी प्लांट सबसे पसंदीदा प्लांट्स में से एक है. हो भी क्यों नहीं, मामला पैसों यानी money और सुन्दरता से जो जुड़ा है! J मनी प्लांट को “शैतान की बेल” यानी “Devil’s Ivy” भी कहा जाता है क्योंकि यह पौधा बहुत ही “सख्त जान” यानि “die-hard” होता है. यह कार्बनडाइऑक्साइड, बैन्जीन और अन्य टोक्सिंस को सोख लेता है. दिल की शेप वाले पत्ते और सदा हरा-भरा रहने वाला पौधा घर की सुन्दरता को चार-चाँद लगा देता है.

लकी बैम्बू (Lucky Bamboo)

माना जाता है कि लकी बैम्बू यानि सौभाग्यशाली बांस का इतिहास पांच हज़ार साल पुराना है. “लकी बैम्बू” को शांतिदायक और नयी उर्जा प्रदायक माना जाता है. पश्चिमी देशों में यह पौधा काफी प्रसिद्ध है. यह ठंडक और नमी को बरकरार रखने में सहायक है. इसे लक, प्यार और सेहत के लिए अच्छा माना जाता है.

Comments