मरने से पहले अपनी मालकिन की जान बचा गई भैंस

आपने कुत्ते और घोड़े जैसे जानवरों की वफादारी और इनके द्वारा अपने मालिक की जान बचाए जाने की बातें सुनी होंगी. लेकिन क्या कभी सुना है कि एक भैंस की वजह से उसके मालिक या मालकिन की जान बच गयी?

सुनने में थोड़ा अजीब लगता है लेकिन हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के एक गाँव में एक भैंस के कारण उसकी मालकिन की जान बच गयी. मगर अफसोस! खुद भैंस मौत के मुंह में चली गयी.

दरअसल कांगड़ा के प्रसिद्ध धार्मिक स्थान और मंदिर चामुंडा देवी के साथ लगते एक गांव में मंगलवार को आंधी के कारण बिजली का खंबा टूटने से तार नीचे गिर गए थे। इसका पता किसी को नहीं चल सका। बारिश के कारण गीली हुई जमीन पर भी करंट आ गया था।

भैंस बिजली के खंबों को मजबूती देने के लिए लगाई गई स्टे वायर के साथ खुद को रगड़कर खुजाने लगी। इस तार में करंट था और भैंस उससे चिपक गई। हाई वोल्टेज करंट की चपेट में आने से भैंस तड़पने लगी। भैंस की मालकिन ने भैंस को तड़पते देखा तो बिना कुछ सोचे समझे वह भी भैस की तरफ जाने लगी। जैसे ही उसने भैस को हाथ लगाया वह भी करंट की वजह से भैंस के साथ चिपक गईं।

इन हालात में बचने की उम्मीद न के बराबर थी मगर तड़प रही भैंस के शरीर में हलचल हुई और उसकी एक जोरदार लात महिला को लगी। लात पड़ते ही जगदंबा देवी नाम की यह महिला छिटककर दूर खेत में जा गिरीं। उनकी जान तो बच गई मगर भैस वहीं मर गई।

 

 

Comments

LEAVE A REPLY